img

पद्मावत अपडेट- स्कूल बस को भी नहीं बख्शा करणी सेना ने, बच्चों से भरी बस पर किया पथराव

पद्मावत के विरोध में करणी सेना के कार्यकर्ताओं का हिंसक प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा है। बुधवार को करीब 60 उपद्रवियों ने सोहना स्थित जी डी गोयनका स्कूल की बस पर पथराव कर दिया। जिसमें कई बच्चों को मामूली चोंटें भी आईं। हालांकि करणी सेना ने इस मामले में आरोपों को खारिज किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गुरुग्राम के सोहन स्थित जीडी गोयनका वर्ल्ड स्कूल की बस 22 बच्चों और तीन टीचर को लेकर शाम करीब चार बजे भोंडसी की ओर आ रही थी। ठीक इसी समय भोंडसी के पास उपद्रवियों ने रोडवेज की बस में तोड़फोड़ के बाद आग लगाई थी। पुलिस ने इन उपद्रवियों को यहां से खदेड़ा तो ये भाग निकले और सामने से आ रही स्कूल बस को जबरन रुकवा लिया। 

उपद्रवियों के हमले दौरान बच्चों ने रोना शुरू कर दिया, बस में बैठे टीचर और बच्चे सहम गए, बस में मौजूद टीचर और सहायक उपद्रवियों से रहम की भीख मांगते रहे लेकिन बच्चों की चीख-पुकार के बावजूद उपद्रवियों का पथराव जारी रहा। 

स्कूल की एक टीचर ने बताया कि पथराव के कारण बस के शीशे टूटकर बिखर गए। इससे कुछ बच्चों को मामूली चोट आई है। लेकिन अंदर से सभी बच्चे बुरी तरह से डर गए हैं। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद उपद्रवी तो भाग गए लेकिन बच्चों का डर अभी खत्म नहीं हुआ है। 

आप को बता दें कि गुरुवार को पद्मावत रिलीज होने वाली है। उसके ठीक एक दिन पहले करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने देश भर के अलग-अलग हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन किया। यूपी में राजधानी लखनऊ सहित कई शहरों में उपद्रवियों ने तोड़फोड़ की। वहीं हरियाणा और राजस्थान में भी कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन हुए। उपद्रवियों ने यहां कई सड़कों पर जाम लगाने के साथ ही बसों को निशाना बनाया। मध्य प्रदेश में भी करणी सेना ने विरोध-प्रदर्शन किया। 

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े