img

पुलिस के खौफ़ में दलित, 120 परिवारों ने किया पलायन

उत्तरप्रदेश- एटा के जलेसर थाना क्षेत्र में दलित परिवार इतने खौफ़ में जी रहे हैं कि करीब 120 दलित परिवारों ने वहां से पलायन कर दिया। जलेसर कोतवाली में 15 अगस्त की रात हुए बवाल के बाद पुलिस ने मौहल्ला ठगेलाल और गोला कुआं के दलित परिवारों का जीना मुश्किल कर दिया है। बुधवार को पीड़ित परिवारों की महिलाएं एसएसपी से मिलीं और न्याय की गुहार लगाई।

अभी तक जलेसर के मौहल्ला ठगेलाल और गोला कुआं से करीब 120 दलित परिवार पलायन कर चुके हैं। मौहल्ला ठगेलान की निवासी गंगा देवी ने बताया कि उसके पुत्र संजीव की परचून की दुकान है। कई पुलिसकर्मियों ने उसकी दुकान से सामान उधार लिया था। लेकिन जब उनसे पैसे मांगे तो पुलिसकर्मियों ने 15 अगस्त को उसके पुत्र संजीव और मौहल्ले के कई लोगों को उठा लिया। अन्य लोगों को तो पांच-पांच हजार रुपये लेकर छोड़ दिया, लेकिन उसके पुत्र को अभी तक नहीं छोड़ा है।  

उसका कहना है कि 15 अगस्त की रात कोतवाली पर हुए बवाल से हमारे मौहल्ले के लोगों का कुछ लेना देना नहीं है, उनको झूठा फंसाया जा रहा है। गंगा देवी ने एसएसपी को इसकी लिखित शिकायत दी है। पीड़ित परिवारों की महिलाओं ने बसपा कार्यकर्ताओं के साथ एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया से मुलाकात की और पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराने और पुलिस के भय से पलायन करने वाले दलित परिवारों की मदद की मांग की।  

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

  • काश, समय से पहले ना गए होते कांशीराम....

    कांशीराम जी की 11वीं पुण्यतिथि पर विशेष...ये कहने में शायद किसी को कोई ऐतराज नहीं होगा कि बाबा साहब के बाद कांशीराम जी बहुजनों के सबसे बड़े नेता थे। और उनकी असमायिक मौत से बहुजन समाज का जो नुकसान…

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े