img

बीजेपी में शामिल होते ही बिगड़े नरेश अग्रवाल के बोल, कहा 'एक फिल्म वाली के लिए काट दिया मेरा टिकट'

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता नरेश अग्रवाल बीजेपी में शामिल हो गए। दिल्ली के बीजेपी कार्यालय में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा की मौजूदगी में वे बीजेपी शामिल हुए। बीजेपी में शामिल होने के साथ ही उनकी हताशा भी नजर आई, उन्होंने जया बच्चन पर हमला बोलते हुए कहा फिल्म में काम करने वाली से मेरी हैसियत कर दी गई, उनके नाम पर पर हमारा टिकट काटा गया। मैंने इसको भी बहुत उचित नहीं समझा। मैं किसी शर्त पर बीजेपी में नहीं आया। कोई राज्यसभा की टिकट नहीं मांगी 'राष्ट्रीय पार्टी में शामिल होकर राष्ट्र सेवा करूंगा।  

आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी के छह राज्यसभा सांसद रिटायर हो रहे हैं, किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव, नरेश अग्रवाल, जया बच्चन, मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी। और सपा के पास सिर्फ 47 वोट हैं इसलिए सिर्फ एक नेता को ही संसद भेजा सकता हैं। बाकी के 9 अतिरिक्त वोट पार्टी गठबंधन के तहत बीएसपी उम्मीदवार को देगी। समाजवादी पार्टी ने नरेश अग्रवाल, किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव, मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी को राज्यसभा का टिकट नहीं दिया है। सपा ने अपने छह राज्यसभा सदस्यों में सिर्फ जया बच्चन को भेजने का फैसला किया है। 

68 वर्षीय नरेश अग्रवाल मूलतः हरदोई के रहने वाले हैं, अग्रवाल बीएससी, एलएलबी हैं और तकरीबन चार दशक से राजनीति में सक्रिय हैं। वे 1980 में पहली बार कांग्रेस के विधायक चुने गए, इसके बाद 1989 से 2008 तक लगातार यूपी विधानसभा के सदस्य रहे। 1997 में कांग्रेस पार्टी को तोड़कर लोकतांत्रिक कांग्रेस पार्टी का गठन किया था। 1997 से 2001 तक वो यूपी सरकार में ऊर्जा मंत्री रहे। 2003 से 2004 तक पर्यटन मंत्री रहे। 2004 से 2007 तक उन्होंने यूपी के परिवहन मंत्री का कार्यभार संभाला। बाद में वे राज्यसभा के लिए चुने गए और संसद की कई कमेटियों में महत्वपूर्ण पदों पर रहे।

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े