img

सहारनपुर में पंचायत का शर्मनाक कारनामा, पिटाई और पेशाब पिलाने से आहत होकर युवक ने खाया ज़हर, हालत गंभीर

सहारनपुर में एक युवक को कुछ महिलाओं द्वारा जबरन यूरिन पिलाए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। महिलाओं द्वारा यूरिन देने के बाद युवक को इतनी आत्म ग्लानि हुई कि उसने अपनी जिंदगी को ही अलविदा करने का फैसला करते हुए जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। इस वक्त यह युवक जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है। हैरत की बात यह है कि इतनी बड़ी वारदात होने के बावजूद पुलिस को इस मामले की भनक तक नहीं लग सकी है।


यह मामला उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जनपद की नगर कोतवाली क्षेत्रांतर्गत राकेश टाकीज इंद्रा कालोनी का है। पूरे घटनाक्रम पर प्रकाश डाले तो पता चलता है कि पिछले दिनों संपन्न हुए नगर निगम के चुनाव में इंद्रा कालोनी राकेश टाकीज निवासी 35 वर्षीय सूरज और अशोक पार्षद का चुनाव लडे़ थे, लेकिन दोनों ही यह चुनाव हार गए थे और तीसरा व्यक्ति चुनाव में बाजी मार गया था। बताया जाता है कि तभी से सूरज और अशोक में रंजिश चली आ रही है। इसी रंजिश के चलते दोनों पक्षों में पहले भी कहासुनी हो चुकी है।


बताया जाता है कि होली से एक दिन पहले 28 फरवरी को सूरज कालोनी स्थित एक ढाबे पर बैठा भोजन आदि कर रहा था कि तभी वहां पर मोहल्ले की ही रहने वाली एक महिला भी छोले लेने के लिए पहुंच गई, जिस पर वहां पर पहले से मौजूद कुछ लोगों ने सूरज और महिला को पकड़ लिया। महिला को तो उसके घर भेज दिया गया, लेकिन सूरज पर महिला को गलत नजर से देखने का आरोप लगाते हुए पिटाई कर दी। मोहल्ले के कुछ लोगों के हस्तक्षेप करने पर 28 फरवरी को मामला निपट गया था।


बताया जाता है कि रविवार की देर रात मामले को लेकर मोहल्ले के लोगों की पंचायत बुलाई गई। सूरज की मां सरोज ने जिला अस्पताल में आरोप लगाते हुए बताया कि पंचायत में सूरज की फिर से पिटाई की गई और उस पर महिलाओं को गलत नजर से देखने का आरोप लगाया गया है। बताया जाता है कि पंचायत में मौजूद कुछ महिलाओं ने बाल्टी में अपना यूरिन एक़ि़त्रत किया और भरी पंचायत में सूरज को जबरन पिला दिया। महिलाओं द्वारा बिना खता के यूरिन पिलाए जाने से सूरज को आत्मग्लानी महसूस हुई और उसने रात में ही अपने घर जाकर जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। सूरज इस वक्त जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है। सिटी कोतवाली पुलिस से मामले की जानकारी चाही गई तो पुलिस ने मामले की जानकारी होने से इनकार दिया। एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि उन्हें भी अभी यह मामला पता चला है। वह पुलिस को अस्पताल में भेजकर पीडित के बयान दर्ज करा रहे है। बयान होने के बाद ही वह आगे कुछ कह सकते हैं।
रिपोर्ट- एम कुमार

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े