img

उत्तरप्रदेश- गरीब मरीजों के साथ भद्दा मजाक, टॉर्च की रोशनी में कर दिए 32 ऑपरेशन, सीएमओ हटाए गए, सीएचसी प्रभारी निलंबित

उत्तरप्रदेश- उन्नाव के नवाबगंज सीएचसी में सोमवार देर रात टॉर्च की रोशनी में 32 मरीजों के मोतियाबिंद के ऑपरेशन करने के मामले में सीएमओ को तुरंत प्रभाव से हटा दिया गया और सीएचसी प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। सोमवार को अंधता निवारण कार्यक्रम के तहत नवाबगंज सीएचसी में 'ओम जगदंबा सेवा समिति' एनजीओ की ओर से आंखों के ऑपरेशन के लिए शिविर लगाया गया था। शिविर में ऑपरेशन के लिए 36 मरीज चिन्हित किए गए थे। जिनमें से 32 मरीजों के ऑपरेशन किए गए थे।

दरअसल सोमवार को लाइट चले जाने के बाद डॉक्टर ने टॉर्च की रोशनी में आखों का ऑपरेशन कर दिया, इतना ही नहीं बिस्तर कम पड़ने पर मरीजों को जमीन पर ही लिटा दिया गया। मंगलवार सुबह मामला जानकारी में आते ही संयुक्त निदेशक स्वास्थ्य अवधेश यादव, एसडीएम हसनगंज मनीष बंसल, सीएमओ डॉ. राजेंद्र प्रसाद, एसीएमओ डॉ. आरके गौतम, नोडल अधिकारी डॉ. अर्जुन सारंग व डॉ. नरेंद्र सिंह जांच के लिए नवाबगंज सीएचसी पहुंच गए।

जांच में अधिकारियों को पता चला कि ऑपरेशन के दौरान रोशनी के लिए कोई प्रबंध नहीं किए गए थे। सीएचसी के जनरेटर के संबंध में चिकित्सा प्रभारी कोई जानकारी नहीं दे सके। संयुक्त निदेशक व एसडीएम ने सीएचसी स्टाफ के बयान दर्ज किए। डीएम ने पूरे मामले से शासन को अवगत कराया जिसके बाद सीएमओ को तुरंत हटाने और सीएचसी प्रभारी के निलंबन के आदेश जारी कर दिए गए। 

नवाबगंज सीएचसी में टार्च की रोशनी में आंख का ऑपरेशन और मरीजों को जमीन पर लिटाने के मामले में शासन ने सीएचसी अधीक्षक डॉ. देवेश दास को निलंबित करने के साथ सीएमओ डॉ. राजेंद्र प्रसाद को हटा दिया। डॉ. शैलेंद्र कुमार को उन्नाव का नया सीएमओ बनाया गया है। 

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े