img

पाकिस्तान में पहली हिन्दू दलित महिला कृष्णा कुमारी कोल्ही ने ली सीनेट सदस्यता की शपथ

पाकिस्तान में पहली हिन्दू दलित महिला सीनेटर कृष्णा कुमारी कोल्ही ने शपथ ग्रहण कर लिया है। सोमवार को कोल्ही के साथ कुल 51 सीनेटरों ने भी शपथ ली।कृष्णा कुमार कोल्ही 39 साल की हैं और वो पाकिस्तान में बिलावल भुट्टो जरदारी के नेतृत्व वाली पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) की सदस्य हैं। वो सिंध प्रांत के नागरपारकर जिले की रहने वाली हैं।


पीठासीन अधिकारी सरदार याकूब खान नासर ने संघीय, प्रांतीय विधानसभाओं द्वारा 3 मार्च को चुने गए सीनेटरों को शपथ दिलाई। जानकारी के मुताबिक कृष्णा कुमारी कोल्ही सिंध प्रांत में अल्पसंख्यक सीट से सीनेटर निर्वाचित हुई हैं। कोल्ही संसद भवन में अपने परिवार के साथ पारंपरिक थारी पहनावे में पहुंची। थारी, सिंध प्रांत के थारपारकर जिले का एक खास पहनावा है।

कृष्णा कुमारी कोल्ही का जन्म एक गरीब किसान जुगनू कोल्ही घर में सन 1979 में हुआ। जानकारी के मुताबिक कोल्ही और उनके परिजनों ने लगभग 3 साल उमेरकोट जिले के कुनरी गांव के एक जमींदार की जेल में बिताये थे।


कोल्ही की शादी 16 साल की उम्र में हो गई थी। उस समय वो सिर्फ 9वीं कक्षा में पढ़ती थी। लेकिन शादी के बाद भी कोल्ही ने अपनी पढ़ाई जारी रखी और सन 2013 में उन्होंने सिंध विश्वविद्यालय से समाजशास्त्र में एमए की डिग्री प्राप्त की। उसके बाद वो सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी में शामिल हुई थीं। कृष्णा कुमारी कोल्ही ने कहा कि वह स्वास्थ्य सेवा में सुधार और पानी की कमी के मसले पर काम करेंगी। इसके अलावा वह थारपारकर की महिलाओं की समस्याओं को हल करने का प्रयास करेंगी।

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े