img

लखनऊ में दबंगों ने दलितों पर बरपाया क़हर, समारोह के दौरान घरों पर किया हमला, महिलाओं, बच्चों को भी पीटा

लखनऊ- शुक्रवार को मोहनलाल गंज थाना इलाके  के पूरनपुर गांव में  दबंगों ने जमकर कहर बरपाया। जहां करीब दो दर्जन से भी ज्यादा की संख्या में बाइक पर  सवार बदमाशों ने लगभग  तीन दर्जन दलित परिवारों को निशाना बनाया। मामले में मोहनलालगंज कोतवाल धीरेन्द्र कुशवाहा पर संगीन आरोप लगे हैं।
   
 शुक्रवार को पूरनपुर गांव में दलितों ने एक समारोह का आयोजन किया हुआ था, जिसमें आर्केस्टा पार्टी का भी आयोजन था।लेकिन दबंगो को दलितों के यहां इस तरह का आयोजन बर्दाश्त नहीं हुआ, जिसके कारण गुस्साए दबंगों ने योजनाबद्ध तरीके से शनिवार की देर रात बाइक पर सवार दर्जनों बदमाशों ने पूरनपुर गांव में दलितों के घरों पर धावा बोल दिया। दहशत फैलाने के लिए दबंगो द्वारा जमकर हवाई फायरिंग की गई। महिलाओं, पुरुषों और बच्चों तक को दौड़ा - दौड़ा कर पीटा गया।  

इस घटना को लेकर जब गांव में शोर मचा और ग्रामीण एकजुट हुए तो दबंग जान बचाने के लिए कई बाइक मौके पर ही छोड़कर फरार हो गए। बाद में पीड़ितों ने दबंगो के वाहनों में जमकर तोड़फोड़ की। इस दौरान दबंगों की करतूत स्थानीय निवासी के घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

आरोप है कि सूचना देने के बाद न तो 100 नम्बर की पुलिस मौके पर पहुंची और न ही स्थानीय पुलिस। कई घंटे बाद मौके पर पहुंची मोहनलालगंज पुलिस पर पीड़ितों को ही धमकाने का आरोप है। आरोप यह भी है कि सपा सरकार में तैनात मोहनलालगंज कोतवाल धीरेन्द्र कुशवाहा की भाजपा सरकार में भी मलाईदार कोतवाली का प्रभारी बना दिया गया। यही वजह भी बताई गई है कि सपा की सरकार में तैनाती पाए धीरेन्द्र कुशवाहा सपाई आरोपियों को बचाने में जुटे रहे।    

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

  • काश, समय से पहले ना गए होते कांशीराम....

    कांशीराम जी की 11वीं पुण्यतिथि पर विशेष...ये कहने में शायद किसी को कोई ऐतराज नहीं होगा कि बाबा साहब के बाद कांशीराम जी बहुजनों के सबसे बड़े नेता थे। और उनकी असमायिक मौत से बहुजन समाज का जो नुकसान…

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े