img

अडानी ग्रुप के लिए खुले एविएशन इंडस्ट्री के दरवाजे

नई दिल्ल्ली- अब देश के पाँच बड़े एयरपोर्ट चलाने की सारी जिम्मेदारी देश के चर्चित उद्योगपति गौतम अडानी की कंपनी अडानी समूह की होगी। देश के छह हवाईअड्डों के लिए लगाई गई बोलियों में अडानी समूह ने पांच एयरपोर्ट अपने नाम कर लिया है। ये एयरपोर्ट लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, मेंगलुरु और त्रिवेंद्रम हैं। वहीं छठे एयरपोर्ट गुवाहाटी को लेकर मंगलवार को फैसला आ सकता है। अडानी समूह को 50 साल की अवधि के लिए इन एयरपोर्ट के रखरखाव और संचालन का जिम्मा मिला है। अब ये पूरी तरह से स्पष्ट हो गया है कि अगले 50 साल तक देश के 5 एयरपोर्ट का अपग्रेड और ऑपरेट अडानी ग्रुप करेगा।

इन एयरपोर्ट प्रोजेक्ट के साथ ही अडानी ग्रुप का एविएशन इंडस्ट्री में प्रवेश हो जाएगा। यह ग्रुप एयरपोर्ट बिजनेस में घुसने का प्रयास कर रहा है। कंपनी मुंबई एयरपोर्ट में जीवीके की हिस्सेदारी खरीदने के लिए उसके साथ बातचीत कर रही है। 

एएआई ने विजेता का चयन 'मंथली पर-पैसेंजर फी' के आधार पर किया है। अधिकारियों ने बताया कि अन्य बोलीदाताओं की तुलना में अडानी ग्रुप की बोलियां काफी ज्यादा थीं। छह हवाईअड्डों के संचालन के लिए 10 कंपनियों की तरफ से कुल 32 तकनीकी बोलियां दी गई थीं। 

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने नवंबर 2018 में एएआई संचालित छह हवाईअड्डों के पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) आधार पर प्रबंधन के लिए एक प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े