img

UPDATE- दलित की मूंछ उखाड़ने व मारपीट के आरोप में चार गिरफ्तार, एसएचओ निलंबित

उत्तरप्रदेश- बदायूं जिले में वाल्मीकि समाज के एक व्यक्ति के साथ मारपीट कर उसकी मूंछ उखाड़ने और जूते में पेशाब पिलाने के आरोप में 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में संबंधित थाने के प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि हजरतपुर थाना इलाके के आजमपुर गांव के सीताराम वाल्मीकि नामक व्यक्ति ने गांव के विजय सिंह, पिंकू, विक्रम सिंह और सोमपाल उर्फ कल्लू पर मारपीट कर मूछ उखाड़ने और जूते में पेशाब पिलाने का आरोप लगाया था।

पुलिस को जानकारी देते हुए पीड़ित ने बताया कि बीते 24 अप्रैल को वह अपने खेत में गेंहू काट रहा था। तभी उसी के गांव के ही रहने वाले विजय सिंह, विक्रम सिंह, पिंकू और सोमपाल उसके पास आए और अपने खेत में खड़ा गेंहूं काटने को कहा। वे चाहते थे कि वह पहले उनके खेत का गेहूं काटे। पीड़ित के मुताबिक उसने उनका गेहूं काटने से मना किया तो उन लोगों ने खेत में ही उसकी जूतों से पिटाई की और जबरन गांव ले आए, जहां पेड़ से बांधकर उससे मारपीट की और जूते में पेशाब पिलाई। इसके अलावा उसकी मूंछे भी उखाड़ लीं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का कहना है कि पीड़ित ने कथित घटना वाले दिन डायल-100 पर सूचना दी थी कि कुछ लोग उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। पुलिस मौके पर पहुंची थी और कार्रवाई करके वापस लौट आई थी। उसके करीब 50 मिनट बाद वाल्मीकि की पत्नी ने भी डायल-100 पर फोन किया और बताया कि उसके पति से कुछ लोग मारपीट कर रहे हैं। डायल-100 की टीम ने फिर मौके पर पहुंचकर कार्रवाई की थी।

उन्होंने बताया कि इस मामले में गत 29 अप्रैल को मुकदमा दर्ज किया गया और सोमवार रात सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में धारा 308, 342, 332, 504, 506 तथा दलित एक्ट के तहत प्राथमिकी पंजीकृत की गई है। हजरतपुर के थानाध्यक्ष राजेश कश्यप को लापरवाही बरतने के आरोप में निलम्बित कर दिया गया है। कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े