img

देशभर में अंबेडकरवादियों ने ‘संविधान दिवस’ के रूप में मनाया 69वां गणतंत्र दिवस

26 जनवरी 2018 को देशभर में अंबेडकरवादियों ने 69वां गणतंत्र दिवस को ‘संविधान दिवस’ के रूप में बड़ी धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस मौके पर कई जगहों पर आयोजित कार्यक्रमों में ध्वजारोहण किया गया। साथ ही भारतीय संविधान निर्माता भारत रत्न बाबा  साहब डॉक्टर अंबेडकर जी के योगदान को याद किया गया और एकजुट होकर भारतीय संविधान की रक्षा करने का संकल्प लिया गया।


गणतंत्र दिवस पर गौतमबुद्धनगर जिले के नोएडा में स्थित राष्ट्रीय दलित प्रेरणा स्थल पर युवा शक्ति दल की टीम ने राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराया। कार्यक्रम में उपस्थित वक्ताओं ने देश की आजादी में बहुजन समाज के महापुरुषों और बाबा साहब के योगदान पर चर्चा की।



इस मौके पर पूर्व आईएफएस अधिकारी और कई देशों के राजदूत रहे प्रताप सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि 26 जनवरी का दिन बहुजन समाज के लिए बड़ा ही गौरव का दिन है, क्योंकि 26 जनवरी 1950 को बाबा साहब द्वारा रचित भारतीय संविधान लागू हुआ था। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान में हमारे समाज को विशेष अधिकार दिए हैं, जो लोकतांत्रित तरीके रहने की गारंटी प्रदान करता है। उन्होंने ये भी कहा कि आज के दौर में कुछ तुच्छ मानसिकता के लोग भारतीय संविधान को बदलने की बात करते रहते हैं, जिनका हमें एकजुट होकर मुकाबला करना है।  
 

इस कार्यक्रम में युवा शक्ति दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि कुमार गौतम ने ओजस्वी भाषण देते हुए कहा कि आज जरूरत है कि हम सब को मिलकर भारतीय संविधान की रक्षा करनी है, जिसके लिए हमें कुर्बानी ही क्यों न देनी पड़े। उन्होंने कहा कि इस समय देश बड़े ही नाजुक दौर से गुजर रहा है, क्योंकि कहीं जातीय हिंसा को लेकर बहुजन समाज के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है, तो कहीं सांप्रदायिकता और फिल्म ‘पद्मावत’ में इतिहास के साथ छेड़छाड़ का बहाना बनाकर सरेआम अराजकता फैलाई जा रही है, जबकि भारतीय संविधान इसकी कतई इजाजत नहीं देता। युवा नेता रवि कुमार गौतम ने चेतावनी देते हुए कहा कि हम अंबेडकरावादी हैं और भारतीय संविधान के दायरे में रहकर ही अपने आंदोलन के जरिये शोषण करने वालों को कड़ाई से जवाब देंगे।


कार्यक्रम का सफल संचालन वरिष्ठ पत्रकार संजीव कुमार सहदेव ने किया। इस दौरान जनतांत्रिक सत्ता अखबार के संपादक संजीव कुमार, नरेश गौमत, नितिन गौतम,अरविंद कुमार समेत कई समाजसेवी और सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।  


नोएडा के इसी राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल पर ही हर साल की तरह इस बार भी अंबेडकरवादियों ने सामूहिक रूप से एकजुट होकर गणतंत्र दिवस मनाया। इस मौके पर दिल्ली, गाज़ियाबाद, नोएडा समेत कई अन्य शहरों से अपने-अपने परिवार के साथ पहुंचे लोगों ने भारतीय संविधान, बहुजन समाज की दशा और दिशा पर चर्चा की। इसके साथ ही सभी ने पिकनिक का आनंद भी उठाया।



इस मौके पर प्रोफेसर राज कमार, प्रोफेसर राम चंद्र, प्रोफेसर अजमेर सिंह काजल, डॉ. सुनील सागर, इंजीनियर सुधीर राज सिंह, डिक्की दिल्ली के अध्यक्ष और उद्यमी एन के चंदन, उद्यमी राजीव कैन, अधिकारी ओ पी सिंह समेत कई समाजसेवी अपने-अपने परिवार के सदस्यों के साथ मौजूद रहे।


दिल्ली के तिलक नगर में बामसेफ की तरफ से 26 जनवरी पर संविधान दिवस समारोह और ‘भारतीय संविधान चिरायु हो- संविधान विरोधियों की पहचान उनकी कुटिलताओं का भंडाफोड़’ विषय पर गोष्ठी आयोजित की गई।       

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े