img

108 एंबुलेंस सेवा फिर घेेरे में

उत्तरप्रदेश में 108 एंबुलेंस सेवा एक बार सवालों के घेरे में आ गई है ताजा मामला बागपत का है जहाँ 108 एम्बुलेंस के चालक ने 6 गर्भवती महिलाओं के साथ ना सिर्फ बदसलूकी की बल्कि उन्हें बीच रास्ते मे ही एम्बुलेंस से उतार दिया। दरअसल मामला बडौत क्षेत्र के खरखड़ी गांव का है जहां से आज सुबह गाँव की आशा को गर्भवती महिलाओं को चैकअप के लिए बडौत सीएचसी लाना था, जिसके लिए आशा ने 108 एम्बुलेंस को फोन कर बुलाया और उन्हें लेकर सीएचसी लिए निकली ही थी कि गर्भवती महिलाओ ने बताया कि  एम्बुलेंस के ड्राइवर ने उन सभी के साथ बदसलूकी की ओर गाली गलौच की, जब उन्होंने इसका विरोध किया तो ड्राइवर ने उन्हें बीच सड़क पर उतार दिया जिसके बाद जैसे तैसे कर 6 गर्भवती महिलाएं सीएचसी पहुँची।  जब इसकी शिकायत सीएचसी अधीक्षक से की गई तो उन्होंने बेशर्मों की तरह सफाई देते हुए कहा कि सारी गलती आशा की है, आशा को 108 एम्बुलेंस को नही बल्कि 102 एम्बुलेंस को फोन करना चाहिए था, वही महिलाओ के पैदल आने की बात को वो किनारे से नकार गए। और बताया कि 108 एम्बुलेंस के ड्राइवर की शिकायत उनके सम्बन्धित अधिकारी को कर दी गई है। 

मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
मुख्य संवाददाता
PROFILE

' पड़ताल ' से जुड़ने के लिए धन्यवाद अगर आपको यह रिपोर्ट पसंद आई हो तो कृपया इसे शेयर करें और सबस्क्राइब करें। हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।

संबंधित खबरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *

0 Comments

मुख्य ख़बरें

मुख्य पड़ताल

विज्ञापन

संपादकीय

वीडियो

Subscribe Newsletter

फेसबुक पर हमसे से जुड़े